वेद कितने प्रकार के हैं? 

Explanation : ‘वेद’ चार प्रकार के है। वेद दुनिया का प्रथम धर्मग्रंथ हैं, इनकी संख्या चार है– ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद और अथर्ववेद है। ऋग्वेद को चारों वेदों में सबसे प्राचीन माना जाता है। यजुर्वेद में गद्य और पद्य दोनों ही हैं। इसमें यज्ञ कर्म की प्रधानता है। सामवेद गेय ग्रंथ है। अथर्ववेद में गणित, विज्ञान, आयुर्वेद, समाज शास्त्र, कृषि विज्ञान, आदि अनेक विषय वर्णित हैं।