तराइन के द्वितीय युद्ध में कौन पराजित हुआ? 

Explanation : तराइन के द्वितीय युद्ध में पृथ्वीराज चौहान पराजित हुआ था। तराइन का द्वितीय युद्ध वर्ष 1192 ई. में पृथ्वीराज चौहान और शहाबुद्दीन मुहम्मद गोरी के मध्य लड़ा गया था उस युद्ध में मुस्लिमों की विजय और राजपूतों की पराजय हुई थी। पृथ्वीराज पूर्णतः परास्त होने के बाद सम्भवतः भाग निकला और सरसुती (सिरसा) के पास पकड़ा गया। हसन निजामी कृत ताजुल मासिर में तराइन के युद्ध का उल्लेख है। यह युद्ध भारतीय इतिहास के निर्णायक युद्धों में से एक था। इसने भारत में तुर्क सत्ता की नींव डाली। इस युद्ध में राजपूतों को भारी नुकसान हुआ, पृथ्वीराज का अधीनस्थ गोविन्दराय तोमर युद्ध में ही मारा गया।