स्वतंत्रता-पूर्व भारत में आने वाले अंतिम व्यापारी कौन थे? 

Explanation : स्वतंत्रता-पूर्व भारत में आने वाले अंतिम व्यापारी फ्रांसीसी थे। भारत में यूरोपीय व्यापारियों के रूप में आने वाले सर्वप्रथम पुर्तगाली तथा सबसे अंत में फ्रांसीसी रहे। पुर्तगाल यूरोप के उन देशों में अग्रणी रहा है, जिन्होंने ‘भौगोलिक अन्वेषण’ की प्रक्रिया शुरू करवायी थी। फ्रांस के मंत्री कोलबर्ट के प्रयासों से 1664 ई. में फ्रांसीसी कंपनी ‘कंपनी द इंद ओरिएंताल’ की स्थापना हुई। भारत में पहली फ्रांसीसी कंपनी फ्रैंक कैरो द्वारा 1668 ई. में सूरत में स्थापित हुई।