स्वामी विवेकानंद का मूल नाम क्या था? 

Explanation : स्वामी विवेकानंद का मूल नाम नरेंद्रनाथ दत्त था। महाराज खेतड़ी के सुझाव पर नरेंद्रनाथ दत्त ने अपना नाम स्वामी विवेकानंद रखा था। 1896 ई. में इन्होंने न्यूयॉर्क में वेदांत सोसायटी का गठन किया था। वर्ष 1900 में पेरिस में आयोजित द्वितीय विश्व धर्म सम्मेलन में भी स्वामी विवेकानंद ने भाग लिया था। सिस्टर निवेदिता उनकी शिष्या थीं। स्वामी जी को 19वीं शताब्दी के नव हिंदू जागरण का संस्थापक भी कहा जाता है। सुभाषचंद्र बोस ने स्वामी विवेकानंद को आधुनिक राष्ट्रीय आंदोलन का आध्यात्मिक पिता कहा था। स्वामी विवेकानंद ने प्रबुद्ध भारत (अंग्रेज़ी) एवं उद्बोधन (बंगाली) नामक पत्रिकाओं का प्रकाशन किया था। राजयोग, कर्मयोग एवं वेदान्त फिलॉसफी उनकी प्रसिद्ध पुस्तकें हैं।

Related Post.....