प्रजा मित्र मंडली का प्रमुख उद्देश्य क्या था? 

Explanation : मैसूर में स्थापित प्रथम राजनीतिक संगठन प्रजा मित्र मंडली की स्थापना के पीछे प्रमुख उद्देश्य वाडियार वंश का विरोध था। चतुर्थ आंग्ल मैसूर युद्ध के बाद अंग्रेजों ने मैसूर में वाडियार वंश के एक बालक को राजा बना दिया और उस पर अपना पूर्ण प्रभुत्व स्थापित कर लिया था। मैसूर पर पूर्ण अधिकार करके टीपू के दोनों पुत्रों को पेंशन दे दी गयी थी। बता दे कि टीपू सुल्तान ने 1780 ई. में अपने पिता हैदरअली की तरफ से सेना का संचालन करता हुआ अंग्रेजों को पोलीलुर नामक स्थान पर भीषण टक्कर दिया, जिसमें अंग्रेजी सेना को वहां से भागना पड़ा।

Related Post.....