लखनऊ समझौता कब और किसके बीच हुआ था? 

Explanation : लखनऊ समझौता दिसंबर 1916 में कांग्रेस और मुस्लिम लीग के बीच हुआ था। महात्मा गांधी व मोहम्मद अली जिन्ना के प्रयत्नों से 1915 ई. में कांग्रेस और लीग के अधिवेशन बंबई में एक ही दिन बुलाये गए। जहां महात्मा गांधी, सरोजिनी नायडू, पं. मदन मोहन मालवीय आदि कांग्रेसी नेताओं ने लीग के विचार-विमर्श में भाग लिया। कांग्रेस और लीग ने एक संयुक्त कमेटी नियुक्त की, जिसने इन दोनों संस्थाओं के बीच मेल उत्पन्न करने के लिए योजना तैयार की। जिसे ‘कांग्रेस-लीग योजना’ के नाम से जाना जाता है। 1916 में कांग्रेस और मुस्लिम लीग का अधिवेशन पुनः साथ-साथ लखनऊ में हुआ। जिसमें मुस्लिम लीग के अध्यक्ष मोहम्मद अली जिन्ना थे जबकि कांग्रेस के अध्यक्ष अम्बिकाचरण मजूमदार थे। इस योजना को लखनऊ अधिवेशन में दोनों संस्थाओं द्वारा स्वीकार कर लिया गया, इसलिए इसे ‘लखनऊ समझौता’ भी कहा जाता है।

Related Post.....