किस मुगल शासक ने कश्मीर में दिवाली मनाई थी? 

Explanation : मुगल सम्राट अकबर ने कश्मीर के श्रीनगर में दिवाली मनाई थी। विदित है कि अकबर धार्मिक दृष्टि से सहिष्णु शासक था। अकबर ने प्रयाग और बनारस जैसे तीर्थस्थानों पर लगने वाले तीर्थयात्रा कर को समाप्त कर दिया था। अकबर की धार्मिक नीति का मूल उद्देश्य’सार्वभौमिक सहिष्णुता’ थी। उसने इस्लामी सिद्धांत के स्थान पर सुलह-कुल की नीति अपनाई। 1575 ई. में फतेहपुर सीकरी में एक ‘इबादतखाना’ (प्रार्थना भवन) की स्थापना की। उसने 1578 ई. से इबादत खाने में सभी धर्मों के विद्वानों को आमंत्रित करने लगा। सभी धर्मों के बीच धार्मिक समन्वय स्थापित करने के लिए अकबर ने 1582 ई. में ‘दीन-ए-इलाही’ नामक नवीन धर्म चलाया।

Related Post.....