खालसा पंथ की स्थापना कब की गई? When was the birth of Khalsa? 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Explanation : खालसा पंथ की स्थापना 13 अप्रैल 1699 को की गई। बैसाखी के पर्व के दिन गुरु गोबिंद सिंह ने खालसा पंथ की स्थापना की थी। उसी दिन गुरु गोबिंद सिंह ने सबसे पहले 5 प्यारों को अमृत पान करवाया था। साथ ही पांच प्यारों के हाथों से स्वयं भी अमृत पान किया था। गुरु जी द्वारा सजाए गए ‘पंज प्यारे’, जो पहले तो अलग-अलग जाति के थे, उन्हें ‘सिंह’ की उपाधि देकर ‘सिख’ बनाया गया। इसके साथ ही उन्हें भाई की उपाधि भी दी गई। गुरु गोविंद सिंह ने सिख धर्म में गुरु ग्रंथ साहिब को गुरु का दर्जा दिया तथा इसके बाद से यह पुस्तक ही गुरु परंपरा की उत्तराधिकारी बन गई। खालसा को सिख धर्म का रक्षक माना जाता है तथा यह सिख धर्म के युद्ध के पहलू को उजागर करता है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now