करो या मरो’ का नारा कब दिया गया? 

Explanation : ‘करो या मरो’ का नारा 1942 में दिया गया था। भारत छोड़ो आंदोलन का प्रस्ताव जवाहर लाल नेहरू ने तैयार किया था। जिसे कांग्रेस कार्य समिति ने अपनी 14 जुलाई, 1942 की वर्धा बैठक में स्वीकृति दे दी, जो 8 अगस्त, 1942 से शुरू हुआ। इसमें अहिंसक ढंग से व्यापक धरातल पर गांधीजी के नेतृत्व में जनसंघर्ष शुरू करने का प्रस्ताव था। जिसमें महात्मा गांधी ने एक मंत्र दिया जो था ‘करो या मरो’ (Do or Die)। जिसका अर्थ था या तो हम भारत को आजाद कराएंगे या इस कोशिश में अपनी जान दे देंगे। अपनी गुलामी का स्थायित्व देखने के लिए हम जिंदा नहीं रहेंगे।

Related Post.....