हैदराबाद रियासत का भारत में विलय कब हुआ था? 

Explanation : हैदराबाद रियासत का भारत में विलय सितंबर 1948 को हुआ था। 13 सितंबर 1948 को भारतीय सेना ने हैदराबाद रियासत पर हमला कर दिया। भारतीय सेना की इस कार्रवाई को ऑपरेशन पोलो का नाम दिया गया क्योंकि उस समय हैदराबाद में विश्व में सबसे ज्यादा 17 पोलो के मैदान थे। भारतीय सेना का नेतृत्व मेजर जनरल जे.एन. चौधरी कर रहे थे। 17 सितंबर की शाम को हैदराबाद की सेना ने हथियार डाल दिए। हैदराबाद, देश की कुछ बड़ी रियासतों में से एक था। 1948 में भारत में विलय होने से पहले यहां क़रीब दो सदियों से आसफ़ जाही वंश का राज था। हैदराबाद रियासत में तीन भाषाई क्षेत्र थे। तेलंगाना के आठ तेलुगु भाषी ज़िले, महाराष्ट्र के पांच मराठी भाषी ज़िले और तीन कन्नड़ भाषा बोलने वाले ज़िले। इस रियासत की कुल आबादी में 84 फ़ीसद हिस्सा हिंदुओं का था।

Related Post.....