दिल्ली के किस सुल्तान ने राजा के दैवीय उत्पत्ति सिद्धांत पर जोर दिया? 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Explanation : दिल्ली के सुल्तान ग्यासुद्दीन बलबन ने राजा के दैवीय उत्पत्ति सिद्धांत पर जोर दिया था। गयासुद्दीन बलबन ने शासन के सिद्धांत को ईश्वरीय अधिकार सिद्धांत के रूप में प्रतिपादित किया। गयासुद्दीन बलबन गुलाम वंश का शासक था जिसने दिल्ली सल्तनत पर 1266 ई. से 1286 ई. तक शासन किया। शासन पद्धति को बलबन ने नवीन सांचे में ढाला और उसको मूलतः लौकिक बनाने का प्रयास किया। उसका कहना था कि ‘सुल्तान का हृदय देवी अनुकम्पा की एक विशेष निधि है, इस कारण उसका अस्तित्व अद्वितीय है।’ उसने ‘सिजदा’ एवं ‘पैबोस’ की परम्परा को लागू किया तथा फारसी त्यौहार ‘नौरोज’ को प्रारम्भ करवाया। उसकी शासन व्यवस्था को ‘लौह एवं रक्त’ की नीति कहकर सम्बोधित किया जाता है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now