चौरी चौरा कांड कब हुआ था? 

Explanation : चौरी चौरा कांड 5 फरवरी, 1922 को हुआ था। यह घटना संयुक्त प्रांत के गोरखपुर जिले में चौरी-चौरा नामक स्थान पर घटित हुई। जिसमें किसानों के एक जुलूस पर गोली चलाये जाने के कारण भगवान अहीर के नेतृत्व में क्रुद्ध भीड़ ने थाने में आग लगा दी, जिससे एक थानेदार सहित 21 सिपाहियों की मृत्यु हो गई। इस घटना से दुःखी होकर गांधी जी ने 12 फरवरी 1922 को बारदोली में कांग्रेस कार्य समिति की बैठक बुलाई जिसमें असहयोग आ स्थगित करने का प्रस्ताव पारित कराया।

Related Post.....