चंद्रगुप्त प्रथम के बाद कौन शासक बना था? 

Explanation : चंद्रगुप्त प्रथम के बाद समुद्रगुप्त शासक बना था। समुद्रगुप्त एक महान् विजेता था। समुद्रगुप्त को हरिषेण लिखित प्रयाग प्रशस्ति में लिच्छवी दौहित्र भी कहा गया है। हरिषेण ने समुद्रगुप्त के विषय में लिखा है कि वे देवताओं में कुबेर (धनदेव), वरुण (समुद्रदेव), इन्द्र (वर्षा के देवता) और यम (मृत्युदेव) के तुल्य हैं। प्रयाग प्रशस्ति, एरण अभिलेख, विभिन्न प्रकार की 6 मुद्राओं (गरुड़, धनुर्धारी, परशुध, अश्वमेध, व्याघ्रहणन और वीणावादन) से उसके संबंध में जानकारी मिलती है।

Related Post.....