ब्रह्म समाज के संस्थापक कौन थे? 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Explanation : ब्रह्म समाज के संस्थापक राजा राममोहन राय थे। इन्होंने उर्दू एवं फारसी की शिक्षा पटना में रह कर प्राप्त की थी। राजा राममोहन राय के पश्चात केशवचंद्र सेन ने ब्रह्म समाज को आगे बढ़ाया। इनके प्रेरणा से पटना एवं गया में ब्रह्म समाज की शाखाएं स्थापित की गई। 1866 में कृष्ण नंदन घोष द्वारा भागलपुर में ब्रह्म समाज की बिहार में प्रथम शाखा स्थापित की गई। शीघ्र ही पटना, मुंगेर, जमालपुर आदि जगहों पर भी इसकी शाखाएं स्थापित की गई। इसके द्वारा समाज से अन्धविश्वास को दूर करने, नैतिक आचरण पर बल देने, एकेश्वरवाद पर बल देने जैसे समाज सुधार के कार्यों को किया गया। ब्रह्म समाज ने बिहार में समाज सुधार एवं शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक कार्य किए। बिहार से जुड़े नेताओं में गुरु प्रसाद सेन, प्रकाश चन्द्र राय, कामिनी देवी आदि का नाम उल्लेखनीय है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now