भू-राजस्व की दर किसके शासनकाल में सर्वाधिक थी? 

Explanation : भू-राजस्व की दर अलाउद्दीन खिलजी के शासनकाल में सर्वाधिक थी। उसने एक अध्यादेश द्वारा उपज का 50% भूमि कर (खराज) के रूप में निश्चित किया। करों की अधिकता के कारण अलाउद्दीन के काल में कृषि कार्य प्रभावित हुआ। वह प्रथम मुस्लिम शासक था जिसने भूमि की वास्तविक आय पर राजस्व निश्चित किया। इसके लिए उसने बिस्वा को ईकाई माना। बिस्वा भूमि पैमाइश की मानक ईकाई थी यह एक बीघा का बीसवां हिस्सा थी। अलाउद्दीन खिलजी मुसलमानों से उपज का एक चौथाई भूमि कर के रूप में लेता था जबकि अन्य प्रजा से उपज का आधा हिस्सा भूमि कर लेता था। सल्तनत काल में मसाहत भू-मापन प्रणाली को पुनर्जीवित करने का श्रेय अलाउद्दीन खिलजी को प्राप्त है।