भित्ति मेहराब प्रणाली का प्रयोग सबसे पहले किस मकबरे में हुआ? 

Explanation : स्थापत्यकला में गुंबद को आधार प्रदान करने के लिए सबसे पहले भित्ति महराब प्रणाली का प्रयोग अलाई दरवाजा में किया गया था। अलाई दरवाजा कुतुब परिसर महरौली दिल्ली, भारत में कुब्बत उल इस्लाम मस्जिद का दक्षिणी प्रवेश द्वार है जो 1311 ई. में अलाउद्दीन खिलजी द्वारा निर्मित है। यह लाल बलुआ पत्थर से बना वर्गाकार गुंबददार द्वार है जिसमें मेहराबदार प्रवेश द्वार और एक ही कक्ष है। इसके विषय में मार्शल ने लिखा है कि ‘अलाई दरवाजा इस्लाम स्थापत्य के खजाने का सबसे सुंदर हीरा है।’

Related Post.....