भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के प्रारूप को किस दिन स्वीकार किया गया था? 

Explanation : भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के प्रारूप को 22 जुलाई, 1947 के दिन स्वीकार किया गया था। यह भारतीय संविधान सभा की बैठक के दौरान अपनाया गया था, जो 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों से भारत की स्वतंत्रता के कुछ ही दिन पूर्व की गई थी। इसे 15 अगस्त 1947 और 26 जनवरी 1950 के बीच भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में अपनाया गया। जबकि 24 जनवरी, 1950 को राष्ट्रगान एवं राष्ट्रगीत को स्वीकार किया गया था। तिरंगा के नाम के पीछे की वजह इसमें इस्तेमाल होने वाले तीन रंग हैं, केसरिया, सफेद और हरा। तिरंगे को आंध्रप्रदेश के पिंगली वैंकैया ने बनाया था। बता दे कि आम नागरिकों को अपने घरों या ऑफिस में आम दिनों में भी तिरंगा फहराने की अनुमति 22 दिसंबर 2002 के बाद मिली। जबकि तिरंगे को रात में फहराने की अनुमति साल 2009 में दी गई।