बंगाल में अनुशीलन समिति के संस्थापक कौन थे? 

Explanation : बंगाल में अनुशीलन समिति के संस्थापक बैरिस्टर प्रमथनाथ मित्र थे। 20वीं शताब्दी के आरम्भ में ही बंगाल में क्रांतिकारी संगठित होकर कार्य करना आरम्भ कर चुके थे। कोलकाता में 1902 में अनुशीलन समिति के अंतर्गत तीन समितियां कार्य कर रहीं थीं। इस अनुशीलन समिति की स्थापना कोलकाता के बैरिस्टर प्रमथनाथ मित्र ने की थी। इन तीन समितियों में से पहली समिति प्रमथनाथ मित्र की थी, दूसरी समिति का नेतृत्व सरला देवी नामक एक बंगाली महिला के हाथों में था तथा तीसरी के नेता थे अरविन्द घोष जो उस समय उग्र राष्ट्रवाद के सबसे बड़े समर्थक थे। बता दे कि अनुशीलन समिति का सर्वप्रथम गठन 1902 में कलकत्ता में किया गया था। कुछ समय बाद ढाका में इसकी शाखा की स्थापना की गई। इसके गतिविधियों का प्रचार-प्रसार ग्रामीण क्षेत्रों सहित पूरे बंगाल में हो गया था।

Related Post.....