अलीपुर केस में सरकारी गवाह कौन बना था? 

Explanation : अलीपुर केस में सरकारी गवाह नरेन्द्र गोसाई बना था। जिसकी कन्हाई लाल दत्त और सतेन्द्र बोस ने हत्या कर दी थी। कलकत्ता के मणिकलतल्ला में गुप्त सूचना के आधार पर एक बम बनाने की फैक्ट्री पकड़ी। इसमें अनुशीलन समिति के प्रसिद्ध नेता और अरबिन्द घोष के छोटे भाई वारीन्द्र कुमार घोष सहित कई लोगों को अभियोजित किया गया। इस घटना को ‘अलीपुर षड्यंत्र’ केस भी कहते हैं। इसमें 39 क्रांतिकारी पकड़े गए। जिसमें से एक नरेन्द्र गोसाई पुलिस का मुखबिर बना गया। उसने कई साथियों के पते-ठिकाने बता दिये। इस चक्कर में कई निरपराध लोग भी पकड़ लिये गये। जिसके बाद कन्हाई और सत्येन्द्र ने उसे सजा देने का निश्चय किया और एक पिस्तौल जेल में मंगवा ली थी।