1906 में कांग्रेस के अध्यक्ष कौन थे? 

Explanation : 1906 में कांग्रेस के अध्यक्ष दादा भाई नौरोजी थे। बनारस अधिवेशन के पश्चात उदारवादी तथा उग्रवादी दल के मतभेद तीव्र गति से बढ़े। उग्रवादी नेता कलकत्ता अधिवेशन के दौरान, बालगंगाधर तिलक या लाला लाजपत राय में से किसी एक को अध्यक्ष बनाना चाहते थे जबकि नरमपंथी डा. रास बिहारी घोष के नाम का प्रस्ताव लाये। अंत में दादा भाई नौरोजी को अध्यक्ष बनाकर विवाद को शांत किया गया था। हालांकि दादा भाई नौरोजी इस समय अस्वस्थ थे इस कारण अध्यक्षीय भाषण नौरोजी के निजी सचिव के रूप में मोहम्मद अली जिन्ना ने पढ़ा था। दादाभाई नौरोजी की उपस्थिति ने कांग्रेस को फूट से बचा लिया था।

Related Post.....